100 करोड़ रुपए का बजट आवंटित किया गया है। –

झारखंड फसल राहत योजना: 100 करोड़ रुपये का बजट आवंटित किया गया है। झारखंड फेसल राहत योजना 2020। झारखंड फसाल राहत योजना लागू | झारखंडखण्ड फसल राहत योजना ऑनलाइन आवेदन | झारखण्ड फसल राहत योजना पंजीकरण प्रक्रिया | फसल रहत योजना फॉर्म

झारखंड फसल राहत योजना 2020

आप सभी इस बात को भलीभांति परिचित होंगे कि हमारे देश की केंद्र सरकार और राज्य सरकार किसानों की आय को दोगुना करने के लिए निरंतर प्रयास कर रही है। जैसा कि आप सभी जानते हैं कि किसानों की प्राकृतिक आपदाओं के कारण कई बार फसलों की हानि हुई है। झारखंड राज्य सरकार ने झारखंड फसल राहत योजना की शुरुआत की है।

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत झारखंड राज्य सरकार के द्वारा झारखंड फसल राहत योजना की शुरुआत की गई.आज हम आपके साथ हमारे इस लेख के माध्यम से झारखंड फसल राहत योजना से जुड़ी सभी आवश्यक जानकारी जैसे आवेदन प्रक्रिया, मुख्य उद्देश्य, मुख्य तथ्य, आवश्यक दस्तावेज आदि पर चर्चा परिचर्चा करेंगे।

झारखंड फसल राहत योजना। झारखंड फसल राहत योजना

झारखंड फसल राहत योजना के अंतर्गत किसानों को प्राकृतिक आपदाओं के कारण हुए फसल नुकसान पर सरकार के द्वारा बीमा कंपनियों के माध्यम से फसल बीमा प्रदान किया जाता है। और नुकसान के लिए आर्थिक सहायता राशि भी प्रदान की जाएगी। झारखंड फसल राहत योजना के अंतर्गत किसानों को फसल बीमा प्राप्त करने के लिए निश्चित प्रीमियम का भुगतान भी करना होगा।

झारखंड फसल राहत योजना के तहत उन सभी किसानों को लाभान्वित किया जाएगा जिनकी फसलों की ओलावृष्टि अधिक वर्षा सुख या बाढ़ की वजह से नुकसान हुई है।झारखंड फसल राहत योजना के तहत सफल कृषि कल्याण के लिए राज्य सरकार के द्वारा 100 करोड़ रुपये का बजट आवंटित किया गया। गया है। इस योजना को पूरे झारखंड राज्य में दिसंबर महीने से लागू किया जाएगा।

झारखंड फसल राहत योजना के तहत झारखंड राज्य सरकार के द्वारा किसानों के द्वारा लिए गए ऋण को माफ करने के लिए भी घोषणा नहीं की गई हैं। किसानों के ऋण को माफ करने के लिए राज्य सरकार के द्वारा दो हजार करोड़ रुपये का बजट आवंटित किया गया है।

झारखंड राज्य सरकार के द्वारा ऋण माफी के लिए एक पोर्टल की शुरूआत की जाएगी। इस योजना के अंतर्गत झारखंड राज्य सरकार द्वारा सभी बैंकों को ऋण लेने वाले किसानों की जानकारी के आधार पर भुगतान करने का आदेश दिया गया है। इस योजना के तहत अब तक 1200000 लोन में से 600000 लोन को आधार इजाफा किया गया है।

यह भी देखें – >> अजिविका समवर्धन हुनर ​​अभियान

झारखंड फसाल राहत योजना का उद्देश्य

झारखंड फसल राहत योजना का मुख्य उद्देश्य झारखंड राज्य के किसानों को आर्थिक सहायता प्रदान करना उनकी आर्थिक स्थिति में सुधार लाना है। इस योजना के अंतर्गत किसानों के कर्ज को भी माफ कर दिया जाएगा। इस योजना के अंतर्गत किसानों को प्राकृतिक आपदाओं के कारण फसल क्षति के लिए मुआवजा भी प्रदान किया जाएगा।

झारखंड फसल सहायता योजना राहत योजना के तहत प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना को सम्मिलित किया गया है और यह इस योजना का एक हिस्सा है। इस योजना के अंतर्गत प्राकृतिक आपदाओं के कारण हुए नुकसान की भरपाई के लिए राज्य सरकार के द्वारा 100 करोड़ रुपये का बजट आवंटित किया गया है। इसके अतिरिक्त कर्ज़ माफी के लिए राज्य सरकार के द्वारा बजट 2000 का बजट आवंटित किया गया है।

झारखंड फसल राहत योजना की प्रमुख विशेषताएं

झारखंड फसल राहत योजना के अंतर्गत किसानों को प्राकृतिक आपदाओं के कारण हुए फसल नुकसान पर सरकार के द्वारा बीमा कंपनियों के माध्यम से फसल बीमा प्रदान किया जाता है। और नुकसान के लिए आर्थिक सहायता राशि भी प्रदान की जाएगी।

झारखंड फसल राहत योजना के अंतर्गत किसानों को फसल बीमा प्राप्त करने के लिए निश्चित प्रीमियम का भुगतान भी करना होगा।

झारखंड फसल राहत योजना के तहत उन सभी किसानों को लाभान्वित किया जाएगा जिनकी फसलों की ओलावृष्टि अधिक वर्षा सुख या बाढ़ की वजह से नुकसान हुई है।

झारखंड फसल राहत योजना के तहत सफल कार्यान्वयनयन के लिए राज्य सरकार के द्वारा 100 करोड़ रुपये का बजट आवंटित किया गया है।

इस योजना को पूरे झारखंड राज्य में दिसंबर महीने से लागू किया जाएगा।

किसानों के ऋण को माफ करने के लिए राज्य सरकार के द्वारा दो हजार करोड़ रुपये का बजट आवंटित किया गया है।

झारखंड फसल राहत योजना पात्रता मानदंड

झारखंड किसान फसल राहत योजना के तहत आवेदन करने वाला किसान झारखंड राज्य का स्थाई निवासी होना चाहिए।

इस योजना के तहत आवेदन करने वाला किसान किसी भी बीमा योजना का लाभार्थी नहीं होना चाहिए।

झारखंड फसल राहत योजना आवश्यक दस्तावेज

आधार कार्ड

राशन कार्ड

किसान का आईडी कार्ड

बैंक खाता

निवास प्रमाण पत्र

खेत का खाता नंबर / खसरा नंबर के कागज

पास साइज फोटोग्राफर

मोबाइल नंबर

आय प्रमाण पत्र

झारखंड फसल राहत योजना आवेदन प्रक्रिया

जैसा कि आप सभी जानते हैं कि झारखंड फसल राहत योजना को पूरे झारखंड राज्य में दिसंबर महीने से शुरू किया जाएगा। इस योजना के अंतर्गत अभी भी किसी भी प्रकार की कोई भी आवेदन प्रक्रिया शुरू नहीं की गई है। झारखंड फसल राहत योजना के अंतर्गत अभी हाल ही में कोई भी वेब पोर्टल या आधिकारिक वेबसाइट राज्य सरकार के द्वारा लॉन्च नहीं की गई है ।जैसे ही झारखंड राज्य सरकार के द्वारा इस योजना के तहत आवेदन प्रक्रिया शुरू की जाएगी हम आपको हमारे इस लेख के माध्यम से संकेत करना होगा।

अधिक जानकारी के लिए

झारखंड फसल राहत योजना क्या है?

झारखंड फसल राहत योजना के अंतर्गत किसानों को प्राकृतिक आपदाओं के कारण हुए फसल नुकसान पर सरकार के द्वारा बीमा कंपनियों के माध्यम से फसल बीमा प्रदान किया जाता है। और नुकसान के लिए आर्थिक सहायता राशि भी प्रदान की जाएगी।

झारखंड फसल राहत योजना के तहत राज्य सरकार के द्वारा कितना बजट आवंटित किया गया है?

झारखंड फसल राहत योजना के तहत सफल कार्यान्वयनयन के लिए राज्य सरकार के द्वारा 100 करोड़ रुपये का बजट आवंटित किया गया है।

झारखंड फसल राहत योजना को पूरे राज्य में कब से लागू किया जाएगा?

इस योजना को पूरे झारखंड राज्य में दिसंबर महीने से लागू किया जाएगा।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *