Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana

राजस्थान इंदिरा गाँधी मातृत्व पावन योजना | रेजिंडिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना ऑनलाइन आवेदन | इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना फेस 1 | इंदिरा गांधी मातृ पावन योजना योजना २०२० आवेदन पत्र

दोस्तों महिलाओं के सशक्तिकरण के लिए सरकार द्वारा विभिन्न योजनाओं को चलाई जा रही है। आज हम आपको राजस्थान सरकार की ऐसी ही एक योजना से संबंधित जानकारी देने जा रहे हैं। जिसका नाम रेजिडेंट गांधी गांधी मातृत्व पोषण योजना है। इस लेख केमाध्यम से आपको हम इस योजना से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी देंगे। जैसे कि योजना का उद्देश्य, लाभ, विशेषताएं, पात्रता, महत्वपूर्ण दस्तावेज, आवेदन प्रक्रिया आदि। तो मित्रो यदि आप राजस्थान इंदिरा गांधी मातृ पावन योजना 2020 से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो आप निशिकरण है कि आप हमारे इस लेख को अंत तक पढ़े।

राजस्थान इंदिरा गांधी मातृ पावन योजना 2021

राजस्थान के मुख्यमंत्री श्री अशोक गेहलोत ने पूर्व प्रधानमंत्री श्रीमती इंदिरा गांधी की 103 वी जयंती पर इंदिरा गांधी मातृ पावन योजना 2021 को शुरू किया है। मुख्य तो इस योजना के अंतर्गत पंजीकृत सरकार द्वारा गर्भवती महिलाओं को आर्थिक 6000 की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। इस योजना के तहत यह आर्थिक 6000 की आर्थिक सहायता 5 चरणों में दी जाएगी। इस योजना के अंतर्गत अभी तक केवल 4 जिलों को ही शामिल किया गया है। जानकारी के अनुसार जल्द ही इस योजना को पूरे प्रदेश में लागू किया जाएगा। इस राजस्थान इंदिरा गाँधी मातृ पावन योजना 2021 के माध्यम से माता-पिता और बच्चे दोनों में कुपोषण को कम किया जाएगा।

इंदिरा गांधी मातृ पावन योजना

रेजिंडिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना के तहत आर्थिक सहायता

रेजिंडिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना 1 फेस 1

राजस्थान इंदिरा गांधी मातृ पावन योजना 2021 को अभी तक केवल 4 जिलों में शुरू किया गया था। इसके बाद इस योजना को पूरे राज्य में आरंभ किया जाएगा। इस योजना के फेस 1 में निम्नलिखित जिले हैं।

⇰ उदयपुर

⇰ डूंगरपुर

ारा बंसवारा

गढ़ प्रतापगढ़

योजना का नाम रेजिंडिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना
उद्देश्य गर्भवती महिलाओं और उनके बच्चे को आर्थिक सहायता प्रदान करते हैं।
लाभार्थी गर्भवती महिलाएं
किसने लॉन्च किया था? प्रतिगामी सरकार
आधिकारिक वेबसाइट जल्दी लॉन्च की जाएगी
आर्थिक सहायता 6 हजार पांच चरणों में
लाभार्थियों की संख्या 77000
बजट 43 करोड़ रु

यह भी देखें – >> राजस्थान अनूप्रति योजना। 1 लाख तक की वित्तीय सहायता

इंदिरा गांधी मातृ पावन योजना 2021 P का बजट

इस योजना का बजट रेटेड सरकार द्वारा 43 करोड़ रुपये निर्धारित किया गया है। और इस योजना के अंतर्गत राज्य खनिज फाउंडेशन ट्रस्ट द्वारा फंडिंग की जाएगी। जो कि खान और भूविज्ञान विभाग के अंतर्गत काम करेगा। राजस्थान इंदिरा गांधी मातृ पावन योजना 2020 के तहत 2000 लाभार्थियों को पहली किस्त के कर 1000 प्रदान कर दिए गए हैं। इस योजना के अंतर्गत लगभग 77 हजार महिलाओं को लाभ पहुंचता है।

राजस्थान इंदिरा गांधी मातृ पावन योजना 2021 की मुख्य विशेषताएं

रेजिंडिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना का उद्देश्य

रेटेड गेहलोत सरकार द्वारा इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना का मुख्य उद्देश्य सभी गर्भवती महिलाओं को सशक्तिकरण प्रदान करना है। इस योजना के माध्यम से गर्भवती महिलाओं को की 6000 की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। जिससे वह खुद का और अपने बच्चे का पोषण कर पाया। इस योजना के माध्यम से कुपोषण में भी कमी आगी और सरकार कुपोषण को काम करना च रही है। इस योजना के तहत ऑनलाइन आवेदन किया जाएगा। जिससे उस समय और पैसे दोनों की बचत होगी और सिस्टम में विस्तार भी होगा।

राजस्थान इंदिरा गांधी मातृ पावन योजना 2021 के लाभ और सुविधाएँ

राजस्थान इंदिरा गांधी मातृ पावन योजना 2020 का आरंभिक मूल्यांकन मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत जी ने पूर्व प्रधानमंत्री श्रीमती इंदिरा गांधी को सौंपा।

गांधी के 103 वी जयंती के अवसर पर किया है।

इस योजना के तहत दूसरी बार गर्भवती होने वाली महिलाओं को आर्थिक 6000 की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।

यह आर्थिक सहायता पाँच चरणों में प्रदान करेगा।

इस योजना के अंतर्गत अभी तक केवल 4 जिलों को शामिल किया गया है जो कि उदयपुर, डूंगरपुर, बांसवाड़ा और प्रतापगढ़ में है।]

रेटेड इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना को पूरे प्रदेश में लागू किया जाएगा।

इस योजना के माध्यम से बच्चे और मां दोनों में होने वाले पोषण पोषण को काम करना है।

इस योजना का बजट 43 करोड़ रूपए है।

लगभग 77 हजार महिलाओं को इस योजना के तहत लाभवंती होगी।

इस योजना के माध्यम से लोग परिवार नियोजन के साधन अपनाने के लिए भी प्रेरित होंगे। इस प्रकार जनसंख्या नियमन होगा।

इंदिरा गांधी मातृत्व पोषन योजना 2020 की फंडिंग राज्य खनिज फाउंडेशन खान और भूविज्ञान विभाग के अंतर्गत आती है।

राज्य सरकार द्वारा दी जाने वाली धनराशि सीधी लाभार्थी के बैंक खाते में ट्रांसफर की जाएगी।

इस योजना के माध्यम से महिलाओं का सशक्तिकरण किया जाएगा।

इस योजना का लाभ दूसरी बार गर्भवती होने पर भी प्रदान किया जाएगा।

रेजिंडिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना की पात्रता

✅ इस योजना के तहत आवेदक को का स्थायी निवासी होना अनिवार्य है।

✅आवेदक महिला होनी चाहिए।

✅आवेदक बीपीएल श्रेणी की होनी चाहिए।

इंदिरा गाँधी मातृवचन योजना योजना 2020 के लिए महत्वपूर्ण दस्तावेज

✔️आधार कार्ड

✔️बीपीएल राशन कार्ड

✔️बैंक डिटेल्स

✔️चार पास साइज फोटोग्राफर

✔️म और नंबरिंग

✔️निवास प्रमाण पत्र

✔️आय प्रमाण पत्र

रेजिंडिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना के तहत आवेदन करने की प्रक्रिया

यदि आप इंदिरा गांधी मातृ पावन योजना 2020 के तहत आवेदन करना चाहते हैं तो आपको अभी कुछ समय के लिए प्रतीक्षा करना होगा। रेटेड सरकार द्वारा अभी तक केवल regundira गांधी मातृत्व पोषण योजना 2020 की घोषणा की गई है। इस योजना के अंतर्गत आवेदन प्रक्रिया जल्द ही सरकार द्वारा सक्रिय की जाएगी। जैसे ही सरकार द्वारा आवेदन करने की प्रक्रिया की जानकारी दी जाएगी हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से संकेत कर देंगे। हमारे इस लेख से जुड़े रहे हैं।

यह भी देखें – >> राजस्थान तारबंदी योजना

इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना किसके द्वारा शुरू की गयी?

इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना मुख्यमंत्री अशोक गेहलोत द्वारा शुरू की गयी है।

इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना का लाभ कोन ले सकता है?

इस योजना का वही ले सकता है जिसके पास बीपीएल राशन कार्ड हो।

इस योजना में गर्भवती महिलाओं को आर्थिक मदद मिलेगी।

गर्भवती महिलाओं को महिलाओं 6000 की आर्थिक सहायता मिलेगी।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *