Kisan Udan Yojana Latest Update 2020: 50% off on Transport

किसान उदान योजना । किसान उदयन योजना 2020: परिवहन पर 50% की छूट। किसान उड़ान योजना। किसान उड़ान योजना 2020। किसान उदयन योजना 2020

किसान उदान योजना नवीनतम अद्यतन 2020: परिवहन पर 50% की छूट

हमारे देश की केंद्र सरकार के द्वारा किसानो की फसलों को सस्ती दरों पर देश के कोने कोने में पहुंचने के लिए किसान रेल (किसान रेल) ​​योजना की शुरुआत की गई है। इसके अतिरिक्त केंद्र सरकार के द्वारा किसानो के उत्पादन को ख़राब होने से बचने और विदेशो तक पहुंचने के लिए किसान उड़ान योजना की शुरुआत की गयी है। हमारे देश की केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण जी ने वित्त 2020 के केंद्रीय बजट में किसान उड़ान योजना की घोषणा की है। आत्मनिर्भर भारत अभियान (आत्मानबीर भारत) और ऑपरेशन ग्रीन (ऑपरेशन ग्रीन) के अंतर्गत किसानों के फल, सब्जियों को देश के प्रत्येक भागों में पहुंचाने के लिए किसान रेल योजना की शुरुआत की गई थी।

किसान उदान योजना नवीनतम अद्यतन। किसान उड़ान योजना

केंद्र सरकार के द्वारा वित्त वर्ष 2022 तक किसानो की आय को दुगना करने का लक्ष्य निर्धारण किया गया है। हुम्मेयर देश की केंद्र सरकार ने व्हो की आय को बढ़ने के लिए कई महत्वपूर्ण कदम उठानेे है जैसे किसानों को फर्टिलिज़ेर उपलब्ध करवाने के लिए फंड बनाने, एमएसपी बढ़ाने, फार्म बिल, और एग्रीकल्चर इन्फ्रास्ट्रक्चर फॉन आदि है।

किसान उड़ान योजना के तहत देश के पूर्वोत्तर राज्यों से ताजा फल-सब्जियों को हमारे देश में विदेशो में भेजा जाएगा। इससे किसानो कीफसल उत्पादन का नुकसान भी नहीं होगा और उन्हें अपने कृषि उत्पादों के सही मूल्य मिल जायेंगे। इस योजना के अंतर्गत किसानो को दूरी में सरकार के द्वारा छूट प्रदान की जाएगी।

किसान उड़ान योजना के तहत खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्रालय (खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्रालय) के द्वारा पूर्वोत्तर और हिमालयी राज्यों को फल-सब्जियों के हवाई माध्यम से पहुंचने के लिए पार्किंग में 50 प्रतिशत छूट प्रदान की जाएगी। और बाकि शेष 50% का भुगतान किसानो के द्वारा स्वयं किया जाएगा। योजन के तहत एयरलाइंस उत्पादन सप्लाई करने वाले, उत्पादन प्रेषक या उसे हासिल करने वाले एजेंटों के द्वारा तय किय गए किसाये पर 50% की छूट दी जाएगी।

आत्मनिर्भर भारत अभियान (आत्मानिभर भारत) के ऑपरेशन ग्रीन के तहत ‘टॉप टू टोटल’ योजना (TOP to TOTAL) में 41 फल सब्जियों को खाने के लिए और हिमालयी राज्यों के सभी इलाके से हवाई जहाज के तहत फसल उत्पादन को पहुंचने के लिए ड्राइव में छूट है। प्रदान करना। इस योजना के अंर्तगत सरकार के द्वारा हवाई अड्डों के नमो का चयन करके सही जारी क दी गयी है।

इस योजना के अंर्तगत अरुणाचल प्रदेश, असम, मणिपुर, मेघला, मिजोरम, नगालैंड, सिक्किम (बागडोगरा) और त्रिपुरा हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड और केंद्र शासित क्षेत्र जम्मू और कश्मीर और लद्दाख के हवाई अड्डों का चयन किसानो के फसल उत्पाद को पहुँचने के चयन पर किया गया है। है। किसान उड़ान योजना के अंतर्गत पूर्ववर्ती राज्यों जैसे अरुणाचल प्रदेश, असम, मणिपुर, मेघालय, मिजोरम, नगालैंड, सिक्किम, त्रिपुरा, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के किसानों को लाभान्वित किया जाएगा।

ऑपरेशन ग्रीन (ऑपरेशन ग्रीन्स) के तहत ‘टॉप टू टोटल’ योजना (TOP to TOTAL) के अंतर्गत आम, केला, अमरुद, कीवी, लीची, मौसंबी, संतरा, किन्नू, लाइम, नीबू, पपीता, अन्ननास, अनार, कटहल, सेब , बादाम, आंवला, पैसन फ्रूट, पीयर, स्वीट पोटैटो और चीकू आदि को प्लेटफार्मों में समय पर पहुंचचाया जाएगा। और इसके अतिरिक्त सब्जियों में फ्रेंच बीन्स, करेला, बैंगन, शिमला मिर्च, गाजर, फूलगोभी, हरी मिर्च, ओकरा खीरा, हरी मटर, लहसुन, प्याज, आलू, टमाटर, बड़ी इलायची, कद्दू, अदरक, पत्तागोभी, स्क्वैश और हल्दी को पहुंचाया। जायेगा।

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *