Mukhyamantri Kisan Sahay Yojana 2021। ₹25000 प्रति हेक्टर किसानों को मुआवजा –

मुख्मंत्री किसान सहाय योजना 2021। किसानों 25000 प्रति हेक्टर किसानों को मुआवजा | मुख्मंत्री किसान सहाय योजना 2021 | मुख्मंत्री किसान सहाय योजना | मुख्मंत्री किसान सहाय योजना हेल्पलाइन नंबर | गुजरात मुख्यमंत्री किसान सहायता योजना | गुजरात मुख्यमंत्री किसान सहायता योजना | मुख्‍यमंत्री किसान सहायता योजना ऑनलाइन आवेदन | गुजरात किसान सहाय योजना ऑनलाइन फॉर्म | मुख्‍यमंत्री किसान सहायता योजना पंजीकरण

मुख्मंत्री किसान सहाय योजना 2021

गुजरात के मुख्यमंत्री श्री विजय रुपाणी जी ने राज्य के किसानों को आर्थिक सहायता प्रदान करने के लिए मुख्यमंत्री किसान सहायता योजना की शुरुआत 10 अगस्त 2021 को की है। गुजरात मुख्यमंत्री किसान सहायता योजना के तहत गुजरात राज्य सरकार के द्वारा प्राकृतिक आपदाओं के कारण फसलों के नुकसान होने पर मुआवजा प्रदान किया जाएगा। इस योजना के अंतर्गत फसलों का 33% से लेकर 60% तक प्राकृतिक आपदाओं के कारण नुकसान होने पर अधिकतम 4 हेक्टर के लिए एक किसान को प्रति क्षेत्र ₹ 20000 की आर्थिक सहायता राशि मुआवजे के रूप में प्रदान की जाएगी।

मुख्मंत्री किसान सहाय योजना गुजरात मुख्यमंत्री किसान सहायता योजना

इस योजना के अंतर्गत यदि किसी किसान की फसल उपज का 60% से अधिक प्राकृतिक आपदा के कारण नुकसान होता है तो अधिकतम 4 हेक्टेयर के लिए ₹ 25000 प्रति हेक्टर किसानों को मुआवजा प्रदान किया जाएगा।गुजरात राज्य सरकार ने किसानों को लाभान्वित करने के लिए एक नई फसल बीमा योजना की शुरुआत की है। नई फसल बीमा योजना का नाम मुख्यमंत्री किसान सहायता योजना है। इस योजना के तहत गुजरात राज्य सरकार के द्वारा किसानों को खरीफ के मौसम में अनियमित बारिश के कारण होने वाली फसलों की हानि के लिए आर्थिक सहायता राशि प्रदान की जाएगी। इस योजना के अंतर्गत किसानों को किसी भी प्रकार की प्रीमियम के भुगतान नहीं करना होगा।

मुख्मंत्री किसान सहाय योजना उद्देश्य

आप सभी इस बात से भली भांति परिचित होंगे कि हमारे राज्य में कई ऐसे किसान हैं। रैंकी फसलों की प्राकृतिक आपदा के कारण काफी नुकसान होता है। और खास तौर पर अनियमित बारिश के कारण गुजरात राज्य के किसानों कि उपफ की फसलों को काफी नुकसान होता है। है। और इसके कारण उन्हें आर्थिक तंगी का सामना करना पड़ता है। सभी समस्याओं को मध्य परिप्रेक्ष्य में रखते हुए गुजरात राज्य सरकार ने गुजरात मुख्यमंत्री किसान सहायता योजना की शुरुआत की है।

इस योजना के तहत प्राकृतिक आपदाओं के कारण किसानों के होने वाली फसल हानि के लिए गुजरात राज्य सरकार के द्वारा मुआवजा प्रदान किया जाएगा। इस योजना का मुख्य उद्देश्य किसानों की आर्थिक स्थिति में सुधार लाना और उनकी आय में वृद्धि करना है।

यह भी देखें – >> गुजरात सरकार ई-रिक्शा योजना

Mukhyamantri Kisan Sahay Yojana नियम और शर्त

सूखा पड़ने पर: अगर किसी जिले में सूखा पड़ जाता है। और इसके कारण कृषि उपज को नुकसान होता है तो इस स्थिति में मुख्यमंत्री किसान सहायता योजना के तहत किसानों को मुआवजा प्रदान किया जाएगा। मुख्यमंत्री किसान सहायता योजना के तहत किसानों को मुआवजा केवल तब ही प्रदान किया जाएगा ।जब उस जिले में 10 इंच से कम बारिश हुई हो या फिर मानसून में बारिश बिल्कुल भी ना हुई हो।

भारी बारिश हो रही है: यदि किसी जिले में भारी वर्षा होती है। और इसके कारण किसानों की फसलों को नुकसान होता है, तो इस स्थिति में किसानों को मुख्यमंत्री किसान सहायता योजना के तहत लाभान्वित किया जाएगा। इस स्थिति में बारिश 35 इंच या फिर 48 घंटे लगातार होनी चाहिए। सेंवल तब ही किसानों को मुआवजा प्रदान किया जाएगा।

बेमौसम वर्षा होने के कारण: अगर किसी जिले में बेमौसम बारिश होती है। और इसके कारण किसानों की फसलों का नुकसान होता है, तो उन सभी किसानों को मुख्यमंत्री किसान सहाई उधना के तहत लाभान्वित किया जाएगा। इस योजना के अंतर्गत किसानों को केवल तब ही लाभांवित किया जाएगा। जब उनके जिले में 15 अक्टूबर से लेकर 15 नवंबर तक 50 मिमी से ज्यादा बारिश 48 घंटे तक हुई है।

मुख्मंत्री किसान सहाय योजना प्रमुख विशेषताएं

मुख्यमंत्री किसान सहायता योजना की शुरुआत गुजरात के मुख्यमंत्री श्री विजय रुपाणी जी ने 10 अक्टूबर 2020 को किसानों के हित के लिए की है।

इस योजना के तहत गुजरात राज्य सरकार के द्वारा प्राकृतिक आपदाओं के कारण किसानों की हुई फसल नुकसान के लिए किसानों को मुआवजे के रूप में आर्थिक सहायता राशि प्रदान की जाएगी।

मुख्यमंत्री किसान सहायता योजना के तहत किसानों की फसल उपज का 33% से लेकर 60% तक प्राकृतिक आपदा के कारण फसल हानि होने पर प्रत्येक किसान को अधिकतम फसल के लिए ₹ 20000 प्रति हैक्टर के रूप से क्षतिपूर्ति दी जाएगी।

मुख्यमंत्री किसान सहायता योजना के अंतर्गत यदि किसी किसान की फसल की हानि 60% से अधिक होती है तो अधिकतम 4 हैक्टर के लिए एक किसान को ₹ 25000 प्रति हेक्टेयर के रूप से क्षतिपूर्ति दी जाएगी।

इस योजना के तहत गुजरात राज्य सरकार के द्वारा खरीद के मौसम में बेमौसम बारिश होने के कारण होने वाले फसल नुकसान की भरपाई के लिए मुआवजा देना होगा।

मुख्यमंत्री किसान सहयोग के तहत राज्य के लगभग हैं 5600000 किसानों को लाभान्वित किया जाएगा।

राज्य सरकार के द्वारा मुख्यमंत्री किसान सहायता योजना के अंतर्गत जून से नवंबर के बीच में होने वाली फसल हानि के लिए अधिकतम 4 हेक्टर की फसलों के लिए मुआवजा प्रदान किया जाएगा।

मुख्मंत्री किसान सहाय योजना पात्रता मानदंड

मुख्यमंत्री किसान सहायता योजना के तहत आवेदन करने वाला व्यक्ति गुजरात राज्य का स्थाई निवासी होना अनिवार्य है।

इस योजना के अंतर्गत किसान प्राकृतिक आपदा के कारण होने वाले फसल नुकसान के लिए किसान राज्य आपदा विकलांगता कोष के तहत अतिरिक्त मुआवजा प्राप्त करने के लिए भी बहुत योग्य हैं।]

मुख्यमंत्री किसान सहायता योजना के तहत गुजरात राज्य के किसानों को लाभान्वित किया जाएगा।

मुख्यमंत्री किसान सहायता योजना के तहत गुजरात राज्य के राजस्व रिकॉर्ड में पंजीकृत सभी 8-एक धारक किसान खाताधारक और वन अधिकार अधिनियम के तहत मान्यता प्राप्त किसानों को लाभ दिया जाएगा।

Mukhyamantri Kisan Sahay Yojana आवश्यक दस्तावेज

आधार कार्ड

पहचान पत्र

निवास प्रमाण पत्र

मोबाइल नंबर

जमीन संबंधी कागजात

पास साइज फोटो

बैंक अकाउंट की किताब

Mukhyamantri Kisan Sahay Yojana ऑनलाइन आवेदन करें

गुजरात किसान सहायता योजना के तहत राज्य सरकार के द्वारा अभी तक कोई भी आवेदन प्रक्रिया शुरू नहीं की.गुजरात राज्य सरकार के द्वारा जैसे ही मुख्यमंत्री किसान सहायता योजना के तहत आवेदन प्रक्रिया शुरू की जाएगी। हम आपको हमारे इस लेख के माध्यम से सूचित कर देंगे। गुजरात राज्य सरकार के द्वारा मुख्यमंत्री किसान सहायता योजना के तहत जल्द ही आधिकारिक वेबसाइट और वेब पोर्टल लॉन्च किया जाएगा। और आवेदन प्रक्रिया भी शुरू कर दी जाएगी।

Mukhyamantri Kisan Sahay Yojana संपर्क जानकारी

कृषि, किसान कल्याण और सहकारिता विभाग

ब्लॉक नंबर 5, पहली मंजिल, न्यू सचिवालय, गांधीनगर, गुजरात
Ph। No: 079-23250802
ईमेल: [email protected]

मुख्मंत्री किसान सहाय योजना के बारे में अधिक जानकारी के लिए: यहाँ क्लिक करें

मुख्यमंत्री किसान सहायता योजना की शुरुआत कब हुई और कहां की गई है?

मुख्यमंत्री किसान सहायता योजना की शुरुआत 10 अगस्त 2020 को गुजरात के मुख्यमंत्री श्रीमान विजय रुपाणी जी के द्वारा किसानों के हित के लिए की गई।

इस योजना के तहत 35% से लेकर 60% तक किसानों की फसल हानि होने पर आर्थिक सहायता राशि प्रदान की जाएगी?

इस योजना के तहत गुजरात राज्य सरकार के द्वारा 33% से लेकर 60% तक फसल हानि होने पर किसानों को अधिकतम 4 हैक्टर के लिए के 20000 प्रति हेक्टेयर के दर से आर्थिक सहायता राशि वाल के रूप में प्रदान की जाएगी।

गुजरात किसान सहायता योजना के तहत 60% से अधिक फसल हानि होने पर किसानों को कितनी आर्थिक सहायता राशि प्रदान की जाएगी?

गुजरात किसान सहायता योजना के तहत किसानों की फसलों की हानि 60% से अधिक होने पर राज्य सरकार के द्वारा अधिकतम 4 हैक्टर के लिए ₹ 25000 प्रति हेक्टेयर की दर से मुआवजा प्रदान किया जाएगा।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *