Nirman Shramik Shiksha Protsahan Yojana 2021। कक्षा 10वीं तथा 12वीं में प्रथम स्थान प्राप्त करने पर ₹100000 प्रोत्साहन राशि

निर्माण श्रम शिक्षा योजना योजना निर्माण श्रम शिक्षा योजना २०२१. १० वीं और १२ वीं में प्रथम स्थान प्राप्त करने पर पर 100000 की राशि। निर्माण श्रम शिक्षा योजना योजना २०२१ निर्माण श्रमिक योजना २०२१ श्रमिक बाल छात्रवृत्ति योजना। Nirman Shramik Shiksha Protsahan Yojana ऑनलाइन आवेदन करें। निर्माण श्रम शिक्षा योजना आवेदन प्रक्रिया निर्माण श्रम शिक्षा योजना योजना पंजीकरण रेटेड निर्माण श्रमिक शिक्षा प्रोत्साहन योजना। रेटेड निर्माण श्रमिक शिक्षा प्रोत्साहन योजना 2021 श्रमिक शिक्षा व कौशल विकास योजना का आवेदन पत्र। श्रमिक शिक्षा व कौशल विकास योजना का आवेदन पत्र। निर्माण श्रम शिक्षा योजना योजना आवेदन पत्र Nirman Shramik Shiksha Protsahan Yojana एप्लीकेशन फॉर्म पीडीएफ

निर्मान श्रमिक शिक्षा योजना 2021

राजस्थान राज्य सरकार के द्वारा श्रमिकों के बच्चों को उच्च शिक्षा के लिए प्रेरित करने के लिए समय-समय पर कई योजनाएं शुरू की जाती है। राजस्थान राज्य सरकार के द्वारा श्रमिक वर्ग के परिवारों के छात्र-छात्राओं को कक्षा दसवीं और कक्षा 12 वीं में प्रथम स्थान प्राप्त करने पर सरकार के द्वारा सरकार 4000 और की 6000 की प्रोत्साहन राशि प्रदान की जाती थी। रेटेड श्रमिक छात्रवृत्ति योजना के अंतर्गत राज्य राज्य सरकार के द्वारा कुछ बदलाव किए गए हैं। इस योजना के अंतर्गत पंजीकृत राज्य सरकार के द्वारा कक्षा दसवीं और कक्षा 12 वीं में प्रथम स्थान प्राप्त करने वाले छात्र-छात्राओं को 6000 या के 4000 की वित्तीय सहायता के बजाय प्रदान 100000 की वित्तीय सहायता राशि छात्रवृत्ति के रूप में प्रदान करते हैं की।

निर्माण श्रम शिक्षा योजना योजना रेटेड निर्माण श्रमिक शिक्षा योजना

राजस्थान राज्य सरकार के द्वारा श्रमिकों के परिजनों को लाभान्वित करने के लिए इस योजना की शुरुआत की गई.राजस्थान श्रम विभाग के द्वारा राज्य के पंजीकृत श्रमिकों के कल्याण के लिए विभिन्न जनकल्याण योजनाएं चलाई जा रही है। वर्तमान में राज्य सरकार के द्वारा छह नई योजनाओं की अधिसूचना जारी की गई है। इस योजना के अंतर्गत निर्माण श्रमिक और उनके आश्रित बच्चे द्वारा भारतीय प्रशासनिक सेवा के लिए आयोजित पूर्व परीक्षाओं में उत्तीर्ण होने पर सरकार के द्वारा। 100000 मूल्यांकन प्रशासनिक सेवा के द्वारा आयोजित परीक्षाओं में उत्तीर्ण होने पर वित्तीय 50000 की वित्तीय सहायता राशि प्रदान करना।

रेटेड निर्माण श्रमिक शिक्षा योजना के अंतर्गत पंजीकृत राज्य सरकार के द्वारा श्रमिकों के बच्चों का आईआईटी / आईआईएम में प्रवेश लेने पर ट्यूशन फीस का पुनर्भरण भी किया जाएगा। पूर्व श्रमिकों के बच्चों को आंतरिक स्तर पर आयोजित होने वाली। खेलकूद प्रतियोगिताओं में भाग लेने या पदक जीतने पर भागीदारों को ₹ 200000 से लेकर। 1100000 की प्रोत्साहन राशि का राज्य सरकार के द्वारा प्रदान की जाएगी। इसके अलावा राज्य सरकार के द्वारा श्रमिकों के बच्चों को विदेशों में रोजगार मिलने पर वीजा जारी होने पर अधिकतम का 5000 का खर्च भी सरकार के द्वारा उठाया जाता है। इस योजना के अंतर्गत वित्तीय संस्थानों के द्वारा श्रमिकों के बच्चों को उच्च शिक्षा प्राप्त करने के लिए अधिकतम ₹ 500000 का लोन 1% ब्याज दर पर उपलब्ध करवाया गया जाएगा।

निर्मल श्रमिक शिक्षा योजना योजना

आप सभी इस बात से भलीभांति परिचित होंगे कि हमारे देश में कई ऐसे श्रमिक हैं, जिनकी आर्थिक स्थिति कमजोर होने के कारण उनके बच्चे उच्च शिक्षा प्राप्त नहीं कर पाते हैं। इसी समस्या को मध्य दृष्टिकोण रखते हुए संरक्षित राज्य सरकार के द्वारा आरक्षित निर्माण श्रमिक शिक्षा योजना की शुरुआत की गई है। इस योजना का मुख्य उद्देश्य श्रमिक वर्ग के बच्चों को उच्च शिक्षा के लिए प्रेरित करने के लिए वित्तीय सहायता प्रदान करना है।

यह भी देखें – >> राजस्थान कृषि उन्नति योजना

निर्मान श्रमिक शिक्षा योजना योजना की प्रमुख विशेषताएं

राजस्थान राज्य सरकार के द्वारा श्रमिकों के परिजनों को लाभान्वित करने के लिए इस योजना की शुरुआत की गई है।

वर्तमान में राज्य सरकार के द्वारा छह नई योजनाओं की अधिसूचना जारी की गई है।

रेटेड निर्माण श्रमिक शिक्षा योजना के अंतर्गत पंजीकृत राज्य सरकार के द्वारा कक्षा दसवीं और कक्षा 12 वीं में प्रथम स्थान प्राप्त करने वाले छात्र-छात्राओं को ओं 100000 की वित्तीय सहायता राशि छात्रवृत्ति के रूप में प्रदान की जाएगी।

इस योजना के तहत निर्माण श्रमिकों और उनकी आश्रित बच्चों द्वारा भारतीय प्रशासनिक सेवा के लिए आयोजित पूर्व परीक्षाओं में उत्तीर्ण होने पर सरकार के द्वारा के 100000 व मूल्यांकित प्रशासनिक सेवा के द्वारा आयोजित परीक्षाओं में उत्तीर्ण होने पर 00 50000 की वित्तीय सहायता राशि प्रदान की जाएगी।

रेटेड निर्माण श्रमिक शिक्षा योजना के अंतर्गत पंजीकृत राज्य सरकार के द्वारा श्रमिकों के बच्चों का IIT / IIM में प्रवेश लेने पर ट्यूशन फीस का पुनर्भरण भी किया जाएगा।

निर्माण श्रमिकों के बच्चों को आंतरिक स्तर पर आयोजित होने वाली खेलकूद प्रतियोगिताओं में भाग लेने या पदक जीतने पर अभियानों को ₹ 200000 से लेकर 000 1100000 की प्रोत्साहन राशि राज्य सरकार के द्वारा प्रदान की जाएगी।

रेटेड निर्माण श्रमिक शिक्षा योजना के तहत पंजीकृत राज्य सरकार के द्वारा श्रमिकों के बच्चों को विदेशों में रोजगार मिलने पर वीजा जारी होने पर अधिकतम सरकार 5000 का खर्च भी सरकार के द्वारा उठाया जाएगा।

रेटेड निर्माण श्रमिक शिक्षा योजना के अंतर्गत वित्तीय संस्थानों के द्वारा श्रमिकों के बच्चों को उच्च शिक्षा प्राप्त करने के लिए अधिकतम 000 500000 का लोन 1% ब्याज दर पर उपलब्ध करवाया जाएगा।

Nirman Shramik Shiksha Protsahan Yojana आवश्यक दस्तावेज

आधार कार्ड

कक्षा दसवीं और कक्षा 12 वीं की अंक तालिका

शिक्षण संस्थान के प्रमुख का प्रमाण पत्र

हितासियारी पंजीयन परिचय पत्र

श्रमिक कार्ड

भामाशाह कार्ड

बैंक अकाउंट की किताब

यह भी देखें – >>मित्रा खोले ऑनलाइन आवेदन

Nirman Shramik Shiksha Protsahan Yojana अनुप्रयोग प्रक्रिया

सबसे पहले आवेदक को इस योजना की आधिकारिक वेबसाइट होगा जाना होगा।

निर्मल श्रमिक शिक्षा योजना

आधिकारिक वेबसाइट के होम पेज पर आवेदक को BOCW सेक्शन में स्कीम का नंबर दिखाई देता है .आवेदक को इस नंबर पर क्लिक करना होगा।

अब आवेदक के सामने सभी योजनाओं की सूची खुल जाएगी। आवेदक को इस सूची में निर्माण श्रमिक शिक्षा और कौशल विकास योजना का नंबर दिखाई देता है।

अब आवेदक को के सामने श्रमिक शिक्षा व कौशल विकास योजना का आवेदन पत्र खुल जाएगा। आवेदक को इस आवेदन पत्र की पृष्ठभूमि को डाउनलोड करना होगा।

निर्मल श्रमिक शिक्षा योजना

आवेदन पत्र डाउनलोड करने के पश्चात आवेदक को आवेदन पत्र में पूछी गई सभी जानकारी ध्यान पूर्वक दर्ज करनी होगी।

सभी आवश्यक जानकारी दर्ज करने के पश्चात आवेदक को सभी आवश्यक दस्तावेजों को अटैच करना होगा।

अब आवेदक को इस आवेदन पत्र को श्रम विभाग कार्यालय में जाकर जमा करवाना होगा।

निर्माण श्रमिक शिक्षा और कौशल विकास योजना क्या है?

निर्माण श्रमिक शिक्षा और कौशल विकास योजना के अंतर्गत पंजीकृत राज्य सरकार के द्वारा श्रमिक वर्ग के परिवार के बच्चों को उच्च शिक्षा के लिए प्रोत्साहित करने के लिए छात्रवृत्ति के रूप में आर्थिक सहायता राशि प्रदान की जाएगी।

निर्माण श्रमिक शिक्षा और कौशल विकास योजना के तहत कक्षा दसवीं और कक्षा 12 वीं में प्रथम स्थान प्राप्त करने पर सरकार के द्वारा कितनी राशि प्रदान की जाएगी?

रेटेड राज्य सरकार के द्वारा श्रमिकों के बच्चों के कक्षा दसवीं और 12 वीं के छात्र छात्राओं को की 100000 की वित्तीय सहायता राशि प्रथम स्थान प्राप्त करने पर प्रोत्साहन राशि के रूप में प्रदान की जाएगी।

इस योजना के तहत खेल परियोजनाओं में भाग लेने या शिक्षा प्राप्त करने पर श्रमिक छात्रों को कितनी राशि प्रदान की जाएगी?

इस योजना के अंतर्गत खेल परियोजनाओं में भाग लेने या पदक प्राप्त करने पर श्रमिक वर्ग के छात्र-छात्राओं को 000 200000 से लेकर प्रोत्साहन 1100000 की प्रोत्साहन राशि वित्तीय सहायता राशि के रूप में प्रदान की जाएगी।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *