UP Rojagar Mission | स्वरोजगार के कई नए अवसर भी उत्पन्न किए जाएंगे –

यूपी रोजागर मिशन | यूपी रोजगर मिशन 2020 | रोजागर मिशन | यूपी रोजगर मिशन ऑनलाइन पोर्टल | यूपी रोजागर | यूपी रोजगर मिशन

यूपी रोजगर मिशन

नमस्कार आज हम आपको उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा चलाई गयी नई योजना रोजगार यूपी रोजगार मिशन ’से जुडी सभी जानकारिया देने जा रहे हैं। उत्तरप्रदेश में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी हाल ही में यूपी रोजगार मिशन 2020 -21 की घोषणा की है। इस योजना से सम्बंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारिया जैसे आखिर ये योजना क्या है ?, इसका मुख्य उदेश्ये क्या है ?, इस योजना के लाभ क्या है? इसके साथ ही इस रोजगार मिशन के लिए आवश्यक पात्रता आदि जानने के लिए हमारे आर्टिकल को अंत तक पूरा करना होगा।

यूपी रोज़गार मिशन / यूपी रोजगार मिशन का मुख्य उद्देश्य

जैसा की आप सभी जानते हैं की बीते दिनों तालाबंदी की वजह से पुरे देश की अर्थव्यवस्था पूरी तरह से बिगड़ गयी है। देश की आर्थिक स्थिति में सुधार लाने के लिए भारत सरकार निरंतर प्रयास कर रही है। देश की आर्थिक स्थिति में सुधार के लिए प्रधानमंत्री मोदी जी ने बीते दिनों आत्मनिर्भर भारत मिशन की शुरुआत की है। जिसके कारण उत्तर प्रदेश सरकार ने यूपी में रोजगार मिशन 2020 -21 की हाल ही में शुरुआत की है। इस योजना का मुख्य उदेश्ये प्रदेश में सभी निजी और सार्वजनिक क्षेत्रों में कम से कम 50 लाख से अधिक नौकरिया अगले साल के मार्च महीने तक प्रदान किए जाने का प्रावधान है।

उत्तर प्रदेश के युवाओं जो सेवायोजन और नौकरी की उम्मीद लगाए बैठे हैं उनके लिए राज्य सरकार की ओर से युपी मिशन रोजगार एक अच्छी खबर साबित होगी। युवाओं के भविष्य व उनकी जरूरतों को ध्यान में रखते हुए योगी सरकार ’मिशन रोजगार’ के अभियान का रूप देती है इस योजना का आगाज किया है।]

मुख्यमंत्री द्वारा निर्धारित किए गए लक्ष्य के अनुसार प्रदेश के लगभग 50 लाख युवाओं को नवंबर 2020 से मार्च 2021 तक सेवायोजित किया जाएगा। आपको बता दे की इस मिशन के तहत सेवायोजन को मनरेगा में समिल्लित नहीं किया जाएगा।

इसमें सरकारी विभागों, निगमों, परिषद, में रिक्त पदों पर भर्ती की विधि सम्पूर्ण करने के साथ ही सरकार के अथक प्रयासों से निजी क्षेत्र औरसरकारी क्षेत्रों में स्वरोजगार के कई नए अवसर भी उत्पन्न किए जाएंगे।

उत्तरप्रदेश सरकार ने रोजगार मिशन रोजगार ’की कार्यप्रणाली तैयार की है, मुख्यमंत्री योगी जी ने इस बात की घोषणा की है कि इस योजना की सकारात्मक शुरुआत दीपावली के तुरंत बाद से की जाएगी |

सहायक लिंक – >> संत रविदास शिक्षा सहायता योजना

यूपी रोजागर मिशन के बारे में

सरकार ने हाल ही में मिशन रोजगार की कार्यप्रणाली पर विचार किया है, इसे अंतिम रूप देने का फैसला किया है। इस मिशन की बैठक पर वार्ता की बैठक में प्रदेश के मुख्य सचिव ने बताया कि मिशन रोजगार के तहत राज्य के अलग-अलग विभागों, विभागों, स्वयंसेवी संस्थाओं, परिषदों, निगमों, और अलग-अलग स्थानीय निकायों, के जरिये एक सम्मिलित रूप से राज्य में। रोजगार, स्वरोजगार के ज्यादा से ज्यादा मौके पैदा किए जाने के मिशन में करेंगे।

मुख्यमंत्री की निगरानी में प्रारम्भ किया जा रहा है यह महाभियान शासन की सबसे उप्पर प्राथमिकता में रखा गया है। हर वित्तीय वर्ष में रोजगार सृजन करने का लक्ष्य विभागवार के द्वारा तय किया जाएगा। इस मिशन के द्वारा सुचारु वित्तीय वर्ष के अंत तक प्रदेश के लगभग 50 लाख बेरोजगार युवाओं को रोजगार, स्वरोजगार के अवसर प्रदान करने के साथ ही उन्हें कौशल प्रशिक्षण के द्वारा रोजगार, स्वरोजगार के लिए अनुकूल बनाया जाएगा।

यूपी मिशन रोजगर हाइलाइट्स

योजना का नाम यूपी रोजगार मिशन 2020-21
किसने लॉन्च किया था? योगी आदित्यनाथ जी
लाभार्थी यूपी के नागरिक
उद्देश्य यूपी की आर्थिक स्थिति में सुधार करना
साल 2020-21

ऑनलाइन पंजीकरण यूपी मिशन रोजगर या यूपी मिशन रोजगार योजना के लिए आवेदन करने की प्रक्रिया

✅ उत्तर मिशन रोजगार के तहत आवेदन करने के लिए उत्तर प्रदेश के प्रत्येक संगठन, विभाग या प्राधिकरण के कार्यालय में रोजगार हेल्प डेस्क बनाया गया है।

✅ हेल्प डेस्क संबंधित विभाग से जुडी सेवायोजन कार्यक्रम का लाभ उठाने के इच्छुक लाभार्थी को सभी जानकारी दी जाएगी।

✅ ऐसे कारायल जिनके स्वरोजगार, रोजगार और कौशल प्रशिक्षण की विभिन योजनाएं ऑनलाइन शुरू की जा रही हैं, इन रोजगार हेल्प डेस्क के जरिये से उन्हें ऑनलाइन पंजीकरण करने के लिए प्रेरित किया जाएगा।

अधिक जानकारी के लिए : यहाँ क्लिक करें

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *