UPSEE Counseling Process 2020 AKTU 1 2 3 4 Round Allotment Result Schedule

UPSEE काउंसलिंग 2020 UPSEE बीटेक MBA B.Arch B.Pharma 1 2 3 4 स्पॉट राउंड काउंसलिंग UPSEE 2020 UPSEE एंट्रेंस एग्जाम काउंसलिंग लेटर काउंसलिंग प्रक्रिया UPSEE काउंसलिंग 2020 19 अक्टूबर, 2020 से शुरू होगी, UPTU 1st 2nd Pool Counselling AKTU स्पॉट राउंड काउंसलिंग शेड्यूल काउंसलिंग शेड्यूल अपसे काउंसलिंग 2020 की तारीख

UPSEE काउंसलिंग शेड्यूल 2020 Btech, MBA और अन्य के लिए

UPSEE काउंसलिंग

नवीनतम अपडेट 20/10/2020 को : AKTU UPSEE काउंसलिंग 19 अक्टूबर 2020 से शुरू हुई है। डाउनलोड की सूची नीचे दी गई है…।

राउंड 1 के लिए ऑनलाइन काउंसलिंग

ओपनिंग और क्लोजिंग रैंक 2019

UPSEE काउंसलिंग शेड्यूल 2020

गोल प्रतिस्पर्धा आरंभ करने की तिथि अंतिम तिथि
1 पंजीकरण, शुल्क दस्तावेज़ अपलोड का भुगतान 19-10-2020 14:00 22-10-2020 23:59
1 दस्तावेज़ सत्यापन 20-10-2020 10:00 23-10-2020 23:59 ताजा 24-10-2020 के लिए क्वेरी के लिए
1 ऑनलाइन चॉइस लॉकिंग 20-10-2020 10:00 26-10-2020 10:00
1 जवाब देना Queries R १ 20-10-2020 10:00 24-10-2020 11:00
1 सीट आवंटन 26-10-2020
1 ऑनलाइन विलिंगनेस (फ्रीज / फ्लोट) 26-10-2020 29-10-2020 23:59
1 सीट कन्फर्मेशन का भुगतान (20000/12000) 26-10-2020 29-10-2020 23:59
2 पंजीकरण और शुल्क का भुगतान (ताजा उम्मीदवार) 30-10-2020 14:00 02-11-2020 23:59
2 दस्तावेज़ सत्यापन 30-10-2020 14:00 03-11-2020 15:00 फ्रेश के लिए
04-11-2020 15:00 क्वेरी के लिए
2 ऑनलाइन च्वाइस लॉकिंग 30-10-2020 14:00 05-11-2020 10:00
2 जवाब R प्रश्न 2 30-10-2020 14:00 03-11-2020 23:59
2 सीट आवंटन 2020/05/11
2 ऑनलाइन विलिंगनेस (फ्रीज / फ्लोट) 2020/05/11 08-11-2020 23:59
2 सीट की भुगतान की पुष्टि (20000/12000) 2020/05/11 08-11-2020 23:59
2 ऑनलाइन निकासी (वापसी 15000/9000) 2020/05/11 08-11-2020 23:59
3 पंजीकरण और शुल्क का भुगतान (ताजा उम्मीदवार) 09-11-2020 14:00 11-11-2020 23:59
3 दस्तावेज़ सत्यापन 09-11-2020 14:00 ताजा के लिए 12-11-2020 12:00
क्वेरी के लिए 12-11-2020 23:59
3 ऑनलाइन च्वाइस लॉकिंग 09-11-2020 14:00 13-11-2020 10:00

UPSEE के बारे में:

डॉ। ए.पी.जे. अब्दुल कलाम तकनीकी विश्वविद्यालय (यूकेटीयू) हर साल आयोजित करता है UPSEE प्रवेश परीक्षा उन उम्मीदवारों के लिए जो सरकार में प्रवेश लेना चाहते हैं। और प्रा। इंजीनियरिंग / मैनेजमेंट कॉलेज। इस साल के लिए, UPSEE प्रवेश परीक्षा 27 जनवरी से 31 मई 2020 तक आवेदन शुरू किए गए। कई उम्मीदवारों ने इन पाठ्यक्रमों के लिए आवेदन पत्र भरा। अधिक जानकारी नीचे दी गई है।

उत्तर प्रदेश राज्य प्रवेश परीक्षा 2020 प्रवेश परीक्षा तिथि और इस समाचार के अनुसार उत्तर प्रदेश एसईई 2020 का आयोजन 02 अगस्त 2020 को होगा। चूंकि यूपीएसईई 2020 का परिणाम जल्द ही घोषित किया जाएगा।

UPSEE काउंसलिंग के बारे में:

वे सभी उम्मीदवार जिन्होंने आवेदन पत्र भरे हैं, उनके चयन की प्रतीक्षा कर रहे हैं। यह काउंसलिंग और रिजल्ट से स्पष्ट होगा। डॉ। ए.पी.जे. अब्दुल कलाम प्राविधिक विश्वविद्यालय, लखनऊ में आयोजित होगी यूपी राज्य प्रवेश परीक्षा (UPSEE 2020) काउंसलिंग (काउंसलिंग जल्द शुरू होने वाली है) स्नातक पाठ्यक्रमों में प्रवेश लेने के लिए यूपीएसईई प्रवेश परीक्षा 2020 में अर्हता प्राप्त करने वाले उम्मीदवारों के लिए (B.Tech, B.Pharma, B.Arch, BHMCT, B.FAD) और पोस्ट ग्रेजुएट (एमबीए, एमसीए, एमएएम) यूपी सरकार और निजी कॉलेजों के पाठ्यक्रम।

उत्तर प्रदेश के विभिन्न केंद्रों पर काउंसलिंग आयोजित की जाएगी। तथा यूपीएसईई की वेबसाइट से डाउनलोड करने के लिए परामर्श पत्र भी उपलब्ध होंगे। छात्र अपना काउंसलिंग पत्र यहाँ से डाउनलोड लिंक के नीचे या निम्न वेबसाइट से भी डाउनलोड कर सकते हैं (https://upsee.nic.in/default1.aspx या https://www.uptu.ac.in/)।

UPSEE काउंसलिंग 2020 के लिए आवश्यक दस्तावेज

1- परिणाम, यूपीएसईई प्रवेश परीक्षा का रैंक कार्ड
2- UPSEE काउंसलिंग पत्र
3- 10 वीं और 12 वीं की मार्कशीट और सर्टिफिकेट
4- अधिवास प्रमाणपत्र
5- जाति प्रमाण पत्र
6- आय प्रमाण पत्र
7- आईडी प्रूफ (राशन कार्ड, बैंक पासबुक, वोटर कार्ड, डीएल आदि)।
8- मेडिकल फिटनेस सर्टिफिकेट
9- पासपोर्ट के आकार की तस्वीर
10। चरित्र प्रमाण पत्र

UPSEE COUNSELING SCHEDULE 2020

UPSEE काउंसलिंग कंडक्ट इन है 3-4 गोल प्रक्रिया। सभी उम्मीदवार आसानी से सूचना के नीचे से अनुसूची की जाँच करें। इस जानकारी के द्वारा, आप आसानी से परामर्श की सभी गतिविधि को समझ सकते हैं: –

यूपीएसईई काउंसलिंग स्टार्टिंग डेट 19 अक्टूबर 2020 – 13 नवंबर 2020
UPSEE काउंसलिंग अनुसूची अब उपलब्ध है

दौर कदम:

  • पंजीकरण, पंजीकरण शुल्क का भुगतान और दस्तावेजों को अपलोड करना
  • दस्तावेज़ सत्यापन
  • चॉइस लॉकिंग
  • सीट आवंटन परिणाम
  • ऑनलाइन विलिंगनेस (फ्रीज / फ्लोट)
  • सीट की भुगतान की पुष्टि (20000/12000)
  • पीआई पर फ्रीज सीट के उम्मीदवारों की शारीरिक रिपोर्टिंग

परामर्श प्रक्रिया: –

यूपीएसईई 2020 काउंसलिंग के लिए स्टेप बाय स्टेप प्रोसीजर यहां पर दिया गया है।

राज्य प्रवेश परीक्षा -2020 की ऑफलाइन काउंसलिंग प्रक्रिया

प्रवेश परीक्षा की काउंसलिंग की प्रक्रिया में मुख्य रूप से निम्नलिखित चरण शामिल होंगे।

  1. काउंसलिंग में भाग लेने के लिए पंजीकरण और पंजीकरण जारी करें
    • अ। ई 0 डब्ल्यू 0 एस 0 और टी ० एफ ० डब्ल्यू ० डब्ल्यू ० क्लेम हेतु निवेदन / परिवर्तन
  2. पंजीकरण के लिए पंजीकरण शुल्क भुगतान करने की सुविधा।
  3. उपरोक्त दोनों चरणों के उपरांत केंद्रीय प्रमाण पत्र सत्यापन समिति द्वारा स्टेप 1, 1 अ & 2 में अभ्यर्थियों द्वारा ऑफ़लाइन पंजीयन के उपरांत अपलोड किए गए प्रमाण पत्रों का सत्यापन किया जाएगा उपरोक्त प्रक्रिया प्रयोज्य चरण में नव पंजीकृत अभ्यर्थियों के पंजीयन के सापेक्ष सम्पादित की जाएगी।
  4. सरल मोबाइल संदेश (एस ० एम ० एस ०) के माध्यम से विरोध का धक्का।
  5. सत्यापित और नव किसानों द्वारा विकल्प निर्धारण (विकल्प भरना) |
  6. सीट आवंटन के परिणामों की घोषणा।
  7. अभ्यर्थी सीट स्वीकृति, एक्सेप्टेन्स फीस जमा कर सकता है। उपलब्ध विकल्प: फ्रीज / फ्लोट – चरण (1), फ्रीज / फ्लोट चरण (2) और चरण (3)। ऑटो फ्रीज चरण (4)
  8. चरण (2) और (3) में सीट विड्रॉल के विकल्प की सुविधा प्रदान की जाएगी।
  9. प्रोविजनल अलॉटमेंट लेटर डाउनलोड के लिए विकल्प (यदि सीट कन्फर्म हो गई है तो इसे प्रोविजनल एडमिशन लेटर माना जाएगा)
  10. आवंटित संस्थान।

चरण -1:

  1. राज्य प्रवेश परीक्षा -2010 की परीक्षा में उत्तीर्ण अभ्यर्थी को काउंसिलिंग प्रक्रिया में भाग लेने के लिए वेबसाइट www.upsce.nic.in के माध्यम से ऑफ़लाइन पंजीकरण पूर्ण करने के लिए काउन्सिलिंग शुल्क रु। 1000 / – (गैर वापसी योग्य) आनलाइन जमा करना होगा ऑनलाइन पंजीकरण के पश्चात अभ्यर्थियों को अपने शैक्षिक अभिलेख / प्रमाण पत्र अपलोड करने होंगे, जिसका केंद्रीय काउंसिलिंग समिति के द्वारा वेरीफिकेशन किया जाएगा, वेरीफिकेशन प्रक्रिया पूर्ण होने पर अभ्यर्थियों के रिजस्टर्ड मोबाइल पर एस 0 एम 0 एस 0 भेजा जाएगा, जिसके पश्चात अभ्यर्थी अपनी अर्हता के अनुसार संस्थान और ब्रांच का चयन करते हुए अधिक से अधिक विकल्प का सुधार करेगा।
  2. अभ्यर्थियों द्वारा प्रथम चरण में प्रस्तुत विकल्प / प्राथमिकताओं के आधार पर आन-लाइन चालित विधि से सीट आवंटित होंगी, सीट आवंटन का परिणाम निर्धारित तिथि पर वेबसाइट परउपक्रम / प्रदर्शित किया जाएगा सीट आवंटन के पश्चात अभ्यर्थियों को। रु 20000 / – (सामान्य और ओ सी ०) तथा रु 12.000 / – (अनु ० जाति / अनु ० जनजाति) सीट स्वीकृति के लिए शुल्क जमा करना होगा कन्फर्मेशन फीस जमा करने के पश्चात अभ्यर्थियों को ऑफलाइन फ्रीज या फ्लोट का विकल्प देना होगा अगले चरण में जाने की विकल्प भी प्रदर्शित होगा।
    1. फ्रीज- जो अभयर्थी अपनी सीट से संतुष्ट है और आगे किसी चरण में कोई पुनर्वाय नहीं चाहते हैं लेकिन उनके संस्करण में बदलाव हो सकते हैं।
    2. फ्लोट- जो अभयर्थी अपनी आबंटित सीट से पूर्ण रूप से संतुष्ट नहीं है और आगे सीट अपग्रेड के इच्छुक हैं वे फ्लोट का विकल्प चुन सकते हैं।
  • जो अभ्यर्थी फ्रीज या फ्लोट का विकल्प नहीं होगा उनके लिए फ्लोट का विकल्प डिफाल्ट मान लिया जाएगा।
  • चरण बद्ध आवंटन का वा अभ्यर्थी के लॉगिन से देखा जा सकता है।
  • अभ्यर्थियों को आवंटित सीट को आगे के चरणों में अपडेट किया जा सकता है। आबंटित सीट को फ्रीज विकल्प के मामले में अभ्यर्थियों को आगे के राउंड में कोई परिवर्तन नहीं किया जाएगा।
  • जिन अभ्यर्थियों द्वारा निर्धारित सीट स्वीकृति शुल्क जमा नहीं की है तो उसे सीट छोड़ने / उसे काउंसलिंग से बाहर माना जाएगा और उसे अगले चरणों में भाग लेने की अनुमति नहीं दी जाएगी।

चरण -2:

कौन नहीं है?

  • ऐसे अभ्यर्थी जिन्होंने प्रथम चरण में सीटजीर्ण / पुष्टिकरण शुल्क का भुगतान न किया हो।
  • ऐसे अभ्यर्थी जो कि प्रमाणपत्र अभिलेख सत्यापन के उपरांत अर्ह नहीं पाए गए हैं।

कौन अर्ह है?

अर्ह अभ्यर्थी के चार समूह होंगे

ग्रुप -1 (नया अभ्यर्थी)

  • ऐसी अभयर्थी जिसने पहले पंजीयन नहीं कराया है वह अभयर्थी पंजीकरण वका है रु ० १.००० / – जमा कर पंजीकरण करा सकते हैं।
  • ऐसे अभ्यर्थी जिन्होंने पंजीकरण कराया था लेकिन पंजीकरण शुल्क का भुगतान नहीं किया गया था, उन अभ्यर्थियों को पंजीकरण शुल्क का भुगतान करना होगा।
  • ऐसे अभ्यर्थी जिन्होंने पंजीकरण शुल्क जमा किया है और प्रथम राउंड में कोई विकल्प नहीं भरा है।

ग्रुप -2 (फ्रिज अभयर्थी)

  • ऐसे अभ्यर्थियों को नए विकल्प भरने या विकल्पों में संशोधन करने की अनुमति नहीं दी जाएगी। पूर्व आबंटित सीट यथावत रहेगी और उनकी आवंटित श्रेणी में नियमानुसार अपग्रेड किया जा सकता है।

ग्रुप -3 (फ्लोट अभ्यर्थी)

  • उन्होंने अभयर्थी के पास पिछले चरण में स्वीकृति शुल्क जमा कर दी है लेकिन सीट फ्रीज नहीं की है।
  • ऐसी अभ्यर्थियों को विकल्पों में सनीकरण करने की अनुमति दी जाएगी। उनकी पिछली आवंटित सीट बरकरार रखी जाएगी। उन्हें सीट अपग्रेड के लिए पात्र माना जाएगा। यदि अभ्यर्थी विकल्पों में कोई परिवर्तन नहीं करता है तो चरण -1 के विकल्प को चरण -2 के लिए अंतरिम माना जाएगा।

ग्रुप -4 (जिन अभ्यर्थियों को कोई सीट आवंटित नहीं हुई है)

  • ऐसे अभ्यर्थी जिनको पिछले चरण में कोई भी सीट आवंटित नहीं हुई है ऐसे अभ्यर्थी जिन्होंने पहले विकल्प भरे थे लेकिन कोई सीट आवंटित नहीं हुई थी, को विकल्पों का संशोधन करने की अनुमति होगी। यदि अभ्यर्थी द्वारा पूर्व में मरे विकल्पों में कोई बदलाव नहीं किया जाता है तो चरण -2 के लिए चरण -1 के विकल्प को अंतरिम माना जाएगा।

चरण -2 में सीट आवंटन

  • ऊपर विभिन्न ग्रुपों के अभ्यर्थियों द्वारा किए गए विकलपी के आधार पर बची हुई सीटों के सापेक्ष सीट आवंटित की जानी और उक्त आबंटित सीटों का विवरण वेबसाइट पर प्रदार्त किया जाएगा।

दूसरे चरण में सीटों में परिवर्तनशील नियम

  • पंजीकृत अभ्यर्थी को बिना सीट परिवर्तन के सीटों का आवंटन किया जाएगा। आरक्षित उप वर्ग की सीटों को उनके मुख्य वर्ग में परिवर्तन के बाद निम्नलिखित किया जाएगा: –

ओपी (जीएल) / ओपी (एफएफ) / ओपी (पीएच) / ओपी (एएफ) → ओपी
SC (GL) / SC (FF) / SC (PH) / SC (AF) → SC
ST (GL) / ST (FF) / ST (PH) / ST (AF) → ST
बीसी (जीएल) / बीसी (एफएफ) / बीसी (पीएच) / बीसी (एएफ) → बीसी

टोपरांत पुनः सीट आवंटन किया जाएगा।

  • उपरोक्त अनुसार अभी आरक्षित उप वर्ग की सीटों को परिवर्तन करने के पश्चात यदि कोई सीट उप वर्ग में उपलब्ध है तो परिवर्तन पुनः लागू किया जाएगा और तब तक लागू रहेगा जब तक कोई आरक्षित उप वर्ग की सीट शून्य न हो जाए।
  • इस राउंड में अनु जाति, अनु ० ट्रिब, ओ ० बी ० सी ० और ई डब्ल्यू एस। सीटों में कोई परिवर्तन नहीं किया जाएगा।

चरण -2 में सीट आवंटन के पश्चात

  • प्रथम चरण में सीट फ्रीज कर चुके अभ्यर्थी उसी वर्ग में सीट अपग्रेडेशन कर सकते हैं।
  • जिन अभ्यर्थियों द्वारा फ्लोट किया गया है वह अगले उच्च प्राथमिकता विकल्प के लिए अर्ह हत्ये हैं।
  • प्रथम राउंड में जिन अभ्यर्थियों को सीट आवंटित नहीं की गयी थी, उन्हें दूसरे राउंड में सीट आवंटित हो सकती है।
  • यदि ग्रुप -I और ग्रुप-इन ऐसे नए अभ्यर्थियों जिनको सीट आवटित हई है उन्हें सीट कन्फर्मेशन के लिए रूट 20.000 / – (सामान्य और ओ ० बी ० सी ०) और दौड़ 12.000 / (अनु ० जाति / अनु ० जनजाति) शुल्क भुगतान ऑफलाइन करना होगा। जिसके बाद सीट स्वीकृति / पुष्टिकरण सूचना जेनरेट हो जाएगी साथ ही अगले चरण के लिए विलिगणेश भी प्रदर्शित की जाएगी।
  • एक बार गुप- III के आलरेडी फ्लोट अभ्यर्थियों को सीट आबंटित हो जाएगी तो उसके सापेक्ष अभ्यर्थियों को आबंटित सीट फ्रीज / फ्लोट करने का विकल्प उपलब्ध होगा। ऐसे सभी अभ्यर्थी, जिन्होंने सीट स्वीकृति / पुष्टिकरण शुल्क का भुगतान करा दिया है, को अपना अभ्यावेदन विड्रा करने का विकल्प मिलेगा साथ ही रिफंड के लिए अभ्यर्थी को अपनी बैंकिंग संबंधितधी सूचना भरने का विकल्प प्रदान किया जाएगा इस सम्बन्ध में यह भी इंगित करना है कि सामान्य & पिछड़ा वर्ग के अभ्यर्थियों को रुपया
    • 15000 / – और अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति के अभ्यर्थियों को रूपये 9000 / – वापिस किया जागाड्य इसके साथ ही सीट स्वीकृति / विड्रा की सूचना जेनेरेट हो जाएगी।
  • साथ ही अगले चरण के लिए विलिंगानेश भी प्रदर्शित की जाएगी।
  • यदि अभयर्थी (ग्रुप -III) ने फ्रीज / फ्लोट का विकल्प नहीं दिया है तो ऐसी दशा में अभ्यर्थी को चरण 3 के स्वचालित ही फ्लोट माना जाएगा।

चरण -3:

कौन नहीं है?

  • ऐसे अभ्यर्थी जिन्होने प्रथम और द्वितीय चरण में सीट स्वीकृति / पुष्टिकरण शुल्क जमा नहीं किया है।
  • ऐसे अभ्यर्थी जो ऑनलाइन प्रमाण पत्र / अभिलेख सत्यापन के पश्चात अर्ह नहीं पाए गए हैं।

कौन अर्थ है?

अर्ह अभ्यर्थी के चार समूह होंगे

ग्रुप -1 (नया अभ्यर्थी)

  • • ऐसे अभ्यर्थी जिन्होंने पहले पंजीयन नहीं कराया है, यह अभ्यर्थी पंजीकरण शुल्क है रु ० १,००० / – जमा कर पंजीकरण करा सकता है।
  • ऐसे अभ्यर्थी जिन्होंने पंजीकरण कराया था लेकिन पंजीकरण शुल्क का भुगतान नहीं किया था। उन अभ्यर्थियों को इस चरण में प्रतिभाग के लिए पंजीकरण शुल्क का भुगतान करना होगा।
  • ऐसे अभ्यर्थी जिन्होंने पंजीकरण शुल्क जमा किया है और पिछले चरणों में कोई विकल्प नहीं भरा है।

ग्रुप -2 (फ्रीज अभ्यर्थी)

  • ऐसे अभ्यर्थियों को नए विकल्प भरने या विकल्पों में संशोधन करने की अनुमति नहीं दी जाएगी। पूर्व आबंटित सीट यथावत रहेगी और उनकी आबंटित श्रेणी में नियमानुसार अपग्रेड किया जा सकता है।

ग्रुप -3 (फ्लोट अभ्यर्थी)

  • उन्होंने अभयर्थी के पास पिछले चरण में स्वीकृति शुल्क जमा कर दी है लेकिन सीट फ्रीज नहीं की है।
  • ऐसी अभ्यर्थियों को विकल्पों में संशोधन करने की अनुमति दी जाएगी। उनकी पिछली आबंटित सीट बरकरार रखी जाएगी। उन्हें सीट अपग्रेड के लिए पात्र माना जाएगा। अगर अभ्यर्थी विकल्पों में कोई बदलाव नहीं करता है तो अभ्यर्थी द्वारा पिछले चरणों में दिए गए विकल्प को चरण 3 के लिए अंतिम विकल्प मिलेगा

ग्रुप -4 (जिन अभ्यर्थियों को नहीं भी सीट आबंटित हुयी है);

ऐसे अभ्यर्थी जिनको पिछले चरण में कोई भी सीट आवंटित नहीं हुई है। ऐसे अभ्यर्थी जिन्होंने पहले विकल्प भरे थे, लेकिन कोई सीट आबंटित नहीं हुई थी, को विकल्पों का संशोधन करने की अनुमति होगी। यदि अभ्यर्थी द्वारा पूर्व में भरे विकल्पों में कोई बदलाव नहीं किया जाता है, तो अभ्यर्थी द्वारा पिछले चरणों में दिए गए विकल्प को चरण – 3 के लिए अंतिम विकल्प माना जाएगा।

चरण -3 में सीट आवंटन

उपर्युक्त सभी ग्रुप के अभ्यर्थियों द्वारा प्रस्तुत किए जाने वाले विकल्पों के आधार पर रिक्त सीटों पर केंद्रीयकृत आवंटन कर वेबसाइट पर प्रदर्शित किए गए हैं।

चरण -3 में सीटों का परिवर्तन नियम

  • सभी पंजीकृत अभ्यर्थियों को क्षैतिज आरक्षण में बिना किसी परिवर्तन के सीट आवंटन किया जाएगा।
  • अनुसूचित जनजाति (ST) सीट को अनुसूचित जाति (SC) सीट में परिवर्तन कर पुनः सीट का आवंटन।
  • उपरोक्त के अनुसार सभी प्रकार की सीट के परिवर्तन करने उपरान्त अनुसूचित जनजाति वर्ग में कोई रिक्त सीट उपलब है तो उसका परिवर्तन कर निर्धारित नियमों का उल्लंघन किया जाएगा। इस प्रक्रिया का तब तक पालन किया जाएगा जब तक अनुसूचित जनजाति वर्ग में सीट शून्य नहीं होगी।
  • तत्पश्चात अनुसूचित जाति और पिछड़ा वर्ग की सीटों को सामान्य वर्ग में परिवर्तन के बाद आगे किया जाएगा।

अनुसूचित जाति (SC) → सामान्य वर्ग (ओपन)
पिछड़ा वर्ग (OBC) → सामान्य वर्ग (खुला)

टोपरांत सीटों को पुनः आवंटन किया जाएगा

  • सभी वर्गों की सीटों को परिवर्तन करने के बाद (उपरोक्त विवरण स्थिति के अनुसार) अनुसूचित जाति और पिछड़ा वर्ग में यदि कोई सीट उपलब्ध नहीं है तो उनके परिवर्तन का नियम फिर से पलान करना होगा और इस प्रक्रिया का पालन तब तक होगा जब तक अनुसूचित जाति & पिछड़ा वर्ग में सीट शून्य नहीं हो जाती है।
  • अंतरिम रूप में सभी सीट केवल सामान्य वर्ग और ई.डब्ल्यू एस। वर्ग में उपलब्ध होगा।
  • इस राउंड में TFW (फी-वेवर) सीट में कोई परिवर्तन नहीं किया जाएगा।

चरण -3 में सीटों के आवंटन के बाद

  • चरण -1 और चरण -2 की फ्रीज सीट को उसी सीट पर जमा अपग्रेडेशन किया जा सकता है।
  • फ्लोट सीट वाले अभ्यर्थियों को उनके अंतरिम विकल्पों के अनुसार अगली उच्च प्राथमिकता की सीट में अपग्रेड किया जा सकता है।
  • पूर्व चरणों के अभ्यर्थियों को जिनको कोई सीट आवंटित नहीं हुई थी इस चरण में सीट मिल सकती है।
  • यदि ग्रुप I और ग्रुप IV ऐसे नए अभ्यर्थियों जिनको सीट आबंटित हुआ है उन्हे सीट कन्फर्मेशन के लिए रू ० 20.000 / – (सामान्य और ओ ० बी ० सी ०) तथा रू ० 12.000 / – (अनु ० जाति / अनु जनजाति) शुल्क भुगतान ऑनलाइन करना होगा जिसके बाद सीटस्वीकृति/पुष्टिकरण सूचना जेनेरेट हो जाएगी साथ ही अगले चरण के लिए विलिंगनेस भी प्रदर्शित की जाएगी।
  • एक बार ग्रुप-* के ऑलरेडी फ्लोट अभ्यर्थियों को सीट आवंटित हो जाएगी तो उसके सापेक्ष अभ्यर्थियों को आवंटित सीट फ्रीज/ फ्लोट करने का विकल्प उपलब्ध होगा। ऐसे समस्त अभ्यर्थी, जिन्होंने सीट संस्कृति पुष्टिकरण शुल्क का भुगतान करा दिया, उनको अपना अभ्यावेदन विड्रो करने विकल्प मिलेगा। साथ ही रिफंड के लिए अभ्यर्थी को अपनी बैंकिंग सम्बन्धी सूचना भरने का विकल्प प्रदान किया जायेगा। इस सम्बन्ध में यह भी सूचित करना है कि सामान्य एवं पिछड़ा वर्ग के अभ्यर्थियों को रूपये 10,000/- एवं अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति के अभ्यर्थियों को रूपये 6000/- वापिस किया जाएगा इसके साथ ही सीट संस्कृति/ विड्रा की सूचना जेनेरेट हो जाएगी।
  • साथ ही अगले चरण के लिए विलिंगनेश भी प्रदर्शित की जाएगी।
  • यदि अभ्यर्थी (ग्रुप दृष्टि) ने फ्रीज/फ्लोट का विकल्प नहीं दिया है तो ऐसी दशा में अभ्यर्थी को चरण 4 के स्वतः ही फ्लोट माना जायेगा।

राउंड -4 :

कौन अर्ह नहीं है?

  • ऐसे अभ्यर्थी जिन्होंने चरण 1 अथवा 2 अथवा 3 में आवंटन के उपरांत सीट स्वीकृति शुल्क का भुगतान नहीं किया था।
  • ऐसे अभ्यर्थी जिनके ऑनलाइन प्रमाणपत्र / अभिलेख सत्यापन के बाद अर्ह नहीं पाए गए हो।

कौन अर्ह है?

अर्ह अभ्यर्थी के तीन समूह हैं:

  • ग्रुप -I (फ्रीज अभ्यर्थी): ऐसे अभ्यर्थियों को विकल्पों को संशोधित करने की अनुमति नहीं होगी। ऐसे अभ्यर्थियों की पहले से आवंटित सीट को यथावत रखा जाएगा। हालाँकि उनकी आबंटित वर्ग को नियमानुसार अपग्रेड किया जा सकता है।
  • ग्रुप -II (फ्लोट अभ्यर्थी): ऐसे अभ्यर्थियों को विकल्प संशोधित / चयन करने की अनुमति नहीं होगी। उनकी पहले से आबंटित सीट को यथावत रखा जाएगा साथ ही उन्हें सीट अपग्रेडेशन का अवसर प्रदान किया जाएगा यदि कोई बदलाव नहीं किया जाता है, तो पहले के चरणों में आबंटित विकल्प को अंतिम माना जाएगा।
  • ग्रुप -III (अभ्यर्थी जिन्हें कोई सीट आबंटित नहीं हुई): ऐसे अभ्यर्थी जिनको पिछले तीन चरणों में कोई सीट आवंटित नहीं हुई है या तो, उन्हें यथावत विकल्पों में सीट आवंटन के लिए अर्ह माना जाएगा।

चरण -4 सीट अलॉटमेंट

  • उपलब्ध विकल्पों को रिक्त सीटों के सापेक्ष केंद्रीय रूप से संशोधित किया जाएगा।
  • इस चरण के सीट आवंटन परिणाम वेबसाइट पर उपलब्ध करवाए जायेगे।

चरण -4 के परिवर्तन नियम

  • चरण 3 की समस्त रिक्त बची सीटें केवल ओपन(Open) श्रेणी में उपलब्ध होंगी।
  • चरण 4 के सीट आवंटन के उपरांत चरण 1 अथवा 2 अथवा 3 में अभ्यर्थी द्वारा फ्रीज सीट को (Category Upgradation) श्रेणी उन्नयन के लिए आबंटित सीट पर अपग्रेड किया जा सकता है।
  • फ्लोट सीट वाले अभ्यर्थी को अभ्यर्थी द्वारा प्रस्तुत अंतिम विकल्पों पर अगली उच्च वरीयता वाली सीट पर अपग्रेड किया जा सकता है।
  • पिछले चरणों में जिन अभ्यर्थियों को कोई भी सीट आवंटित नहीं हुयी है ऐसे अभ्यर्थियों को इस चरण में सीट मिल सकती है।
  • (ग्रुप-III) के अभ्यर्थी को एक बार सीट आवंटन कर दिया जाता है तो ऐसे अभ्यर्थियों के पास सीट फ्रीज करने का विकल्प होगा, ऐसे अभ्यर्थी को रुपये 20000/ (सामान्य और ओबीसी) / रूपये 12000/- (एससी और एसटी) सीट स्वीकृति शुल्क के रूप में भुगतान करना होगा सीट स्वीकृति के उपरांत सीट कन्फर्मेशन की सूचना जनरेट होगी।
  • (ग्रुप -II) के अभ्यर्थी जोकि ऑलरेटी पलोट सीट पर है की नवीन आबंटित ब्रांच को ऑटो फ्रीज कर दिया जाएगा, जिसके उपरांत सीट कन्फर्मेशन की जानकारी जनरेट हो जाएगी।
  • सीट स्वीकृति अथवा सीट पुष्टिकरण शुल्क रूपये 20,000/- (सामान्य / ओबीसी-एनसीएल) तथा रूपये 12000 (एससी / एसटी) हेतु सीट आबंटन के उपरांत संस्थान को स्थानांतरित / समायोजित किया जाएगा केवल चरण 2 एवं चरण 3 में ही रिफंड/ विड्रो का प्रावधान होगा, यदि कोई अभ्यर्थी पर 2 तथा यरण 3 में विड्रो नहीं करता है तो ऐसी दशा में रिफंड हेतु पात्र नहीं होगा।

स्पॉट राउंड काउंसलिंग (सरकारी / अनुदानित संस्थानो हेतु )

कौन अर्ह नहीं है?

  • ऐसे सभी अभ्यर्थी जिन्होंने काउन्सलिंग के पिछले 4 चरणों तक सीट फ्रीज/ ऑटो फ्रीज हो। समस्त ऐसे अभ्यर्थी जिन्हें सीट आवंटित की गयी और उन्होंने सीट स्वीकृति / पुष्टिकरण शुल्क भुगतान किया हो और काउंसलिंग के चरण 2 अथवा चरण 3 में विड्रो न किया हो।

कौन अर्ह है?

  • ऐसे समस्त अभ्यर्थी उन अभ्यर्थियों को छोडकर जिन्हे अर्ह नहीं पाया गया हो।

सीट आवंटन

  • सरकारी अनुदानित संस्थाओं में भौतिकी रिपोर्टिंग के उपरांत रिक्त सीटों पर केवल ओपन (Open) श्रेणी में सीट आवंटन हेतु उपलब्ध होगी।

UPSEE College Fee:

The Fee of Top Colleges that Comes Under UPSEE is Rs. 85,000.

Last Words:-

Students are advised to Keep in touch with us for Regular Updates regarding UPSEE Entrance Exam Result 2020 & Counseling Schedule. You can check your Result through a Direct Link provided hereunder……….

Important Link Area :-

All UPSEE Aspirants can share their views, They can also share their Rank/ Marks to get an Idea about their Chances for Admission. Our Panel will be happy to assist you.

Frequently Asked Question (FAQs)

What are the Documents Required for AKTU UPSEE Admission Counseling 2020?

Some Documents are Required for the AKTU UPSEE Admission Counseling 2020
1- Result, Rank card of UPSEE Entrance Exam
2- UPSEE Counseling Letter
3- 10th and 12th Marksheet and Certificate
4- Domicile Certificate
5- Caste Certificate
6- आय प्रमाण पत्र
7- ID Proof (Ration Card, Bank Passbook, Voter Card, DL Etc).
8- Medical Fitness Certificate
9- Passport size Photograph
10. Character Certificate

What will be the Counseling Process for UPSEE 2020?

Step by Step Procedure for UPSEE 2020 Counselling is given in the this link. please click on the link to check All Steps and Procedure of UPTU AKTU Counseling 2020

What is the Counseling Date for AKTU UPSEE 2020?

The Date of Counseling for UPSEE Admission in Dr. A.P.J. Abdul Kalam Technical University (UPTU) of Session 2020-21 Is From 19 October 2020.

Is there any fee For Counseling in Uttar Pradesh Technical University?

Yes, Uttar Pradesh Technical University counselling fee for All Candidates is Rs.100. (Non Refundable)

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *