Vivad Se Vishwas Scheme | 31 दिसम्बर 2020 तक ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। –

विवाह सेवा योजना २०२० विवाद से विश्वास स्कीम। विवाद से विश्वास योजना। विवाद से विश्वास योजना आवेदन प्रक्रिया विवद सेवा योजना ऑनलाइन आवेदन करें। Vivad se Vishwas योजना ऑनलाइन लागू होती है। विवाद से विश्वास स्कीम

विवद से विश्वास योजना 2020

हमारे देश के वित्त मंत्री श्रीमती निर्मला सीतारमण जी ने 1 फरवरी 2020 को केंद्रीय बजट को पेश करते हुए विवादित मत से जुड़ी समस्याओं का निवारण के लिए विवाद से विश्वास योजना की शुरुआत की है। विवाद से विश्वास योजना के तहत प्रत्यक्ष कर से लेकर विवादित मत के समस्याओं का निवारण किया जाएगा। इस योजना के अंतर्गत विवादित करोड़ का भुगतान टैक्सपेयर्स को करना होगा। आज हम आपके साथ हमारे इस लेख के माध्यम से विवाद से विश्वास योजना से जुड़ी सभी जानकारी पर चर्चा परिचर्चा करेंगे।

विवाह सेवा योजना विवाद से विश्वास योजना

विवाद से विश्वास योजना के तहत करदाताओं को विवादित घर पर किसी भी प्रकार का ब्याज नहीं देना होगा।हमारे देश के वित्त मंत्री श्रीमती निर्मला सीतारमण जी का कहना है कि विवाद से विश्वास योजना के तहत ऐसे करदाताओं को लाभान्वित किया जाएगा जिनकी किसी भी निजी संस्था या फोर के साथ विवाद चल रहा है। इस योजना के अंतर्गत करदाताओं को फेसलेस शिशु प्रक्रिया के लिए आसानी से आवेदन कर सकता है।

विवाद से विश्वास योजना के तहत करदाताओं के विवादित करो के विवादों को निपटाने के लिए केंद्र सरकार द्वारा 31 दिसंबर 2020 की अवधि बढ़ा दी गई।हमारे देश की केंद्रीय वित्त मंत्री श्रीमती निर्मला सीतारमण जी और राज्य के वित्त मंत्री श्रीमान अनुराग कक्कुर जी ने बुधवार को विवाद खड़ा कर दिया। योजना विश्वास योजना की अवधि बढ़ाने की घोषणा की है।

विवाद से विश्वास योजना के तहत टैक्स पेयर्स सरकार के साथ बिना किसी अतिरिक्त शुल्क के अपने विवादों को सुलझा सकते हैं। विवद सेवा योजना के तहत जो करदाता विवादित मत की समस्याओं का निवारण करना चाहते हैं वह सभी 31 दिसंबर 2020 तक ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। हमारे देश की वित्तीय मंत्री श्रीमती निर्मला सीतारमण ने एक अन्य घोषणा में कहा कि सभी धर्मार्थ न्यासों, गैर- कॉरपोरेट विभागों, पेशेवरों, एलएलपी फर्मों, भागीदारी फर्मों सहित को उनका बकाया रिफंड शीघ्र भुगतान किया जाएगा।

विवद से विश्वास योजना २०२० उद्देश्य

जैसा कि आप सभी जानते हैं कि हमारे देश में कई ऐसे कर जाते हैं, जिसका विवाद अभी भी लंबित है। और उन पर अभी तक विवाद चल रहे हैं। इन सभी समस्याओं को मध्य परिप्रेक्ष्य में रखते हुए हमारे देश की केंद्रीय वित्त मंत्री श्रीमती निर्मला सीतारमण जी ने विवाद से विश्वास योजना की कोटि की है। विवाद से विश्वास योजना के तहत करदाताओं की विवादित मत के मुकदमों का निवारण किया जाएगा। योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए करदाताओं को कोई भी अतिरिक्त शुल्क नहीं देना होगा।

विवाद से विश्वास योजना के तहत करदाताओं की शेष कर राशि के भुगतान पर किसी भी प्रकार का ब्याज नहीं देना होगा। धर्मवाद से विश्वास योजना का मुख्य उद्देश्य हमारे देश में बढ़ रहा कर विवादित मुकदमों को कम करना है। इससे कष्टप्रद मुकदमे की प्रक्रिया से भी राहत मिलेगी

विवद से विश्वास योजना 2020

पहले विवाद से विश्वास योजना के तहत विवादित करदाताओं के तहत भुगतान करने वाले को 31 मार्च 2020 तक करना होगा। यदि कोई टैक्सपेयर 31 मार्च 2020 तक विवादित कर का भुगतान करता है तो उसे कुछ अतिरिक्त शुल्क ओर देना होगा। इस योजना की अवधि को आगे बढ़ा कर केंद्र सरकार ने 31 जून 2020 कर दिया है अब इनकम टैक्स पेयर्स के कर का भुगतान 31 जून 2020 तक कर सकते हैं।

हमारे देश की केंद्र सरकार ने विवाद से विश्वास योजना के तहत आवेदन अवधि को बढ़ाकर 31 दिसंबर 2020 कर दिया है। हमारे देश में अब तक विभिन्न अपीलीय फोरम अर्थात आयुक्त (अपील) आईटीएटी, उच्च न्यायालय और सर्वोच्च न्यायालय में प्रत्यक्ष कर से संबंधित 4,83,000 विवाद अभी तक बकाया हैं। इन सभी विवादों का निवारण विवाद से विश्वास योजना के तहत किया जाएगा।

Vivad Se Vishwas Scheme 2020 ऑनलाइन आवेदन करें

विवाद से विश्वास योजना के तहत जो भी टैक्सपेयर्स लाभ प्राप्त करना चाहते हैं तो उन्हें सबसे पहले अपने सभी शेष करो का भुगतान करना होगा।हमारे देश की केंद्र सरकार के द्वारा विवाद से विश्वास योजना के तहत अभी भी कोई आवेदन प्रक्रिया या आवेदन तिथि निर्धारित नहीं की गई है की गई है।

विवाद से विश्वास योजना के लिए अभी तक केंद्र सरकार के द्वारा कोई भी पोर्टल या आधिकारिक वेबसाइट लॉन्च नहीं की गई है। जैसे ही विवाद से विश्वास योजना के तहत आवेदन प्रक्रिया या कोई नई घोषणा की जाएगी हम आपको हमारे इस लेख के माध्यम से संकेत कर देंगे।

अधिक जानकारी के लिए देखें सरकारी वेबसाइट

सहायक लिंक्स: हरयाणा युवा नौकारी प्रत्साहन योजना

विवाद से विश्वास योजना क्या है?

विवाद से विश्वास योजना के तहत सरकार के द्वारा सभी विवादित करो के मुकदमों को सुलझाया जाएगा और उनकी सभी समस्याओं का निवारण किया जाएगा।

विवाद से विश्वास योजना की शुरुआत कब की गई है?

विवाद से विश्वास योजना की शुरुआत हमारे देश के केंद्रीय वित्त मंत्री श्रीमती निर्मला सीतारमण जी ने 1 फरवरी 2020 को केंद्रीय बजट पेश करते हुए की थी।

विवाद से विश्वास योजना का लाभ नहीं मिलेगा?

विवाद से विश्वास योजना का लाभ करदाताओं को प्रदान किया जाएगा।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *